GST नंबर कैसे लें? जीएसटी रजिस्ट्रेशन प्रोसेस online

GST नंबर कैसे लें? जीएसटी रजिस्ट्रेशन प्रोसेस online

जीएसटी नंबर के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें

यदि आप सोच रहे हैं कि GST नंबर कैसे मिलेगा या जीएसटी(GST) क्या है तो आप सही जगह आये हैं। आज हम आपको इस लेख की मदद से जीएसटी के बारे में विस्तार से बताएंगे और साथ-साथ ये भी बताएंगे कि इसका रजिस्ट्रेशन(registration) कैसे करते हैं? साथ ही आप GST रजिस्ट्रेशन प्रोसेस हिंदी में डाउनलोड (GST registration process in Hindi pdf download) कर सकते हैं।

जीएसटी क्या है (What is GST in Hindi)?

जीएसटी(GST) का मतलब होता है वस्तु एवं सेवा कर(Goods and services Tax) अर्थात वस्तु यानी कि गुड्स(Goods) तथा सेवा यानी कि सर्विसेज(Services) पर लगने वाला टैक्स। भारत में जब जीएसटी(GST) लागू नहीं हुआ था तो भारत की टैक्स प्रणाली(Tax System) दो हिस्सों में बटी हुई थी- डायरेक्ट टैक्स(Direct Tax) और इनडायरेक्ट टैक्स(Indirect Tax)

डायरेक्ट टैक्स के अंतर्गत वह टैक्स आते थे जो आम नागरिकों द्वारा सरकार को सीधे तौर पर दिया जाते थे। जिसके अंतर्गत इनकम टैक्स, हाउस टैक्स, कॉरपोरेट टैक्स, इंटरेस्ट टैक्स इत्यादि आते थे और वही दूसरे टैक्स की बात करें तो वह था इनडायरेक्ट टैक्स(Indirect tax) जिसे हम अप्रत्यक्ष कर के नाम से भी जानते हैं। पहले जब कोई भी प्रोडक्ट(products) या सर्विस(services) बाजार में कस्टमर को प्रोवाइड कराई जाती थी तो उस प्रोडक्ट या सर्विस(Products or Services) को मार्केट में लाने के लिए सेल्समैन(salesman) या उसके दुकानदार को भारत सरकार को टैक्स देना पड़ता था और उस टैक्स की भरपाई कस्टमर(customer) के जेब से ही की जाती थी। इसके साथ साथ जब कोई प्रोडक्ट मार्केट में सेल के लिए आती थी तो उसके एमआरपी(MRP) या मैक्सिमम रिटेल प्राइस(Maximum Retail Price) में कई प्रकार के टैक्स जैसे की सर्विस टैक्स(Service Tax), VAT, एक्साइज ड्यूटी(Excise duty) इत्यादि शामिल होते थे और इन सभी प्रकार के टेक्स कस्टमर को ही इनडायरेक्टली (Indirectly) देना पड़ता था। जिसके बारे में उनको पता भी नहीं होता था कि वह कितने प्रकार के टैक्स एक साथ भर रहे हैं।

GST division
जीएसटी डिवीज़न

लेकिन जीएसटी(GST) के आने के बाद उपभोक्ताओं को सिर्फ एक ही टैक्स का भुगतान करना होता है जिसे हम जीएसटी के नाम से जानते हैं। जीएसटी का मतलब ही है – एक राष्ट्र एक कर। पहले अलग अलग राज्यों में किसी वस्तु का रेट(price) अलग-अलग होता था। लेकिन अब वही जीएसटी(GST) के आने के बाद इसके दायरे में आने वाले सभी वस्तुओं का रेट पूरे भारत में एक होता है। अब आप कोई भी सामान को खरीदते हैं तो उस पर लगने वाले टैक्स के प्रतिशत के बारे में उसके रिसिप्ट(receipt) पर लिखा होता है। अब अगर कोई व्यक्ति कोई सामान खरीदता है तो उसके लिए यह समझना आसान बन गया है कि उसके द्वारा कितना टैक्स पे(tax pay) किया गया है।

एसजीएसटी(SGST) व सीजीएसटी(CGST)क्या है?

जब भारत में जीएसटी(GST) लागू नहीं था तो राज्य सरकार हर वस्तु पर मनमाना टैक्स लगाती थी जिसके कारण हर राज्य में हर वस्तु की कीमत अलग-अलग होती थी। चूँकि ये प्रोसेस इतना जटिल था बहुत से बिज़नेस आईडिया तक ही सिमित रह जाते थे और व्यवसाय कर पाना काफी मुश्किल था। लेकिन अब जीएसटी(GST) के आने के बाद टैक्स सिस्टम(Tax System) पुरे तरीके से बदल गया है। अब जब किसी प्रोडक्ट पर जीएसटी(GST) लगता है तो वह दो भागों में बांटा जाता है: जिसमें एसजीएसटी(SGST) यानी कि स्टेट गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स(State Goods and Services Tax) तथा सीजीएसटी(CGST) यानी कि सेंट्रल गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स(Central Goods And Services Tax) है।

अब जब कोई भी खरीदार कोई भी वस्तु खरीदता है तो उस पर लगने वाला टैक्स केंद्र और राज्य सरकार में बांट लिया जाता है। केंद्र सरकार ने अलग-अलग प्रोडक्ट और सर्विसेस(products and services) के अनुसार जीएसटी(GST) के अलग-अलग कैटेगरी बनाई है जिसमें 5%, 12%, 18% तथा 28% शामिल है। यह प्रोडक्ट या सर्विस पर निर्भर करता है कि उस पर कितना GST लगेगा।

अब आप तो समझ ही गए होंगे कि जीएसटी(GST) होता क्या है। आइए हम आपको विस्तार से बताएं कि जीएसटी नंबर(GST Number) के लिए रजिस्ट्रेशन(Registration) कैसे करते हैं (How to get GST number in Hindi)? लेकिन आईए उससे पहले जानते हैं कि जीएसटी पंजीकरण(GST Registration) के लिए कौन-कौन से मुख्य डॉक्युमेंट्स(important documents) की जरूरत पड़ती है:

जीएसटी रजिस्ट्रेशन के लिए मुख्य डाक्यूमेंट्स (Important documents for GST registration in Hindi)

GST रजिस्ट्रेशन प्रोसेस काफी आसान है। इसके लिए GST रजिस्ट्रेशन के लिए नीचे दिए डाक्यूमेंट्स कि जरुरत होती है।

  • आपका PAN कार्ड
  • बिज़नेस का इनकारपोरेशन सर्टिफिकेट (incorporation certificate)
  • बिज़नेस ओनर का आईडी, एड्रेस प्रूफ व फोटोग्राफ के साथ
  • बिज़नेस का रजिस्टर्ड एड्रेस प्रूफ
  • आपका बैंक अकाउंट स्टेटमेंट
  • क्लास 2 डिजिटल सिग्नेचर (यदि आप कंपनी या लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप चलाते हैं)

जीएसटी नंबर के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें (How to registration for GST number in Hindi)?

नीचे दिए स्टेप्स फॉलो कर आप GST रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन ही कर सकते हैं।

  1. सबसे पहले अपने ब्राउज़र पर इस लिंक को खोलें(http://www.gst.gov.in)।  आपके सामने एक पेज खुल जाएगा। उस पेज पर न्यू रजिस्ट्रेशन(new registration) के लिए फॉर्म GST REG-01 को सेलेक्ट(select) कर लीजिए। आपके सामने एक फॉर्म खुल जाएगा।
  2. फॉर्म GST REG-01 में सबसे पहले Part 1 को भरिए। जिसमें आपका नाम, पेन(PAN), मोबाइल(Mobile number) इत्यादि शामिल होता है। फिर Proceed कर दीजिए। आपके सामने एक और पेज खुल जाएगा।(नोट- आपके द्वारा दिए गए नंबर पर वेरीफिकेशन(verification) के तौर पर ओटीपी(OTP) सेंड किया जाएगा।)
  3. इस पेज पर आपके नंबर पर आए हुए ओटीपी(OTP) को भर कर वेरीफाई करें। फिर कंफर्म कर दें। (नोट- आपके द्वारा दिए गए मोबाइल नंबर और ईमेल पर एप्लीकेशन रेफरेंस नंबर(Application Reference Number -APN) भेजा जाएगा। इस APN नंबर को नोट कर लें। यह नंबर फॉर्म के Part 2 को भरने में काम आएगा।
GST रजिस्ट्रेशन प्रोसेस
  1. अब आपको GST REG-01 फॉर्म का Part 2 भरना होगा। इस फॉर्म में आपके पहचान और बिजनेस के जरूरी डाक्यूमेंट्स(Documents) की कॉपी शामिल रहेंगे। सारे डाक्यूमेंट्स को ध्यानपूर्वक भरे। इसके बाद अपना APN नंबर डालकर Part 2 को Submit कर दे। (नोट- सभी डाक्यूमेंट्स(documents) PDF और JPEJ फॉर्मेट(format) में होना चाहिए।)
  2. अगर आपके द्वारा दी गई जानकारी के अलावा और अन्य जानकारी की जरूरत पड़ती है तो आपके लिए फॉर्म GST REG-03 जारी किया जाएगा।
  3. आपको GST REG-03 प्राप्त होने के बाद 7 दिन के अंदर फॉर्म GST REG-04 को भरकर सबमिट(Submit) करना होगा।
  4. अब आपका GST रजिस्ट्रेशनस्ट प्रोसेस (GST registration process) समाप्त हो गया है। अगर आप का रजिस्ट्रेशन कंफर्म(confirm) होता है तो 3 दिनों के अंदर मे फॉर्म GST REG-06 में रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट(Registration Certificate) जारी कर दिया जाएगा। जिसमें आपका जीएसटी नंबर(GST Number) शामिल होगा। (नोट – यदि अगर आपके द्वारा दिया गया डिटेल(Details) सही नहीं होगा तो आपका रजिस्ट्रेशन फेल हो सकता है, फिर आपको फॉर्म GST REG-05 के जरिए सूचित किया जाएगा।)

GST registration process pdf (जीएसटी रजिस्ट्रेशन प्रोसेस इन हिंदी )

यदि आप GST रजिस्ट्रेशन प्रोसेस का पीडीऍफ़ हिंदी में डाउनलोड करना चाहते हैं तो यहाँ से कर सकते हैं: Download GST Registration Process PDF in Hindi


हम उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा ऊपर दिए गए जानकारी से आपको यह समझ आ गया होगा कि जीएसटी(GST) क्या है और इसका रजिस्ट्रेशन(registration) कैसे करते हैं। अगर आपके मन में और कोई अन्य प्रश्न है तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में अपने सवालों को पूछ सकते हैं। ऐसी ही जानकारी के लिए फॉलो करते रहे Rajma.org

Leave a Comment